मुख्यमंत्री रमन सिंह ने संस्कृत विद्वानों और मेधावी विद्यार्थियों का सम्मान किया

121

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अपने निवास पर छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् द्वारा आयोजित संस्कृत विद्वानों और मेधावी विद्यार्थियों का सम्मान समारोह आयोजित किया।

मुख्यमंत्री के भाषण की मुख्य बातें –
गणेश चतुर्थी के अवसर पर संस्कृत विद्वानों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया है उन्होंने संस्कृत के प्राथमिक, पूर्व माध्यमिक और हाईस्कूल के विद्यार्थियों को प्रति माह दिए जाने वाली छात्रवृत्ति की राशि दोगुनी करने की घोषणा की। वर्तमान में प्राथमिक विद्यालय के विद्यार्थियों को 40 रूपए, पूर्व माध्यमिक के विद्यार्थियों को एक सौ रूपए और हाईस्कूल के विद्यार्थियों को 150 रूपए प्रतिमाह छात्रवृत्ति दी जाती है। उन्होंने गैर अनुदान प्राप्त संस्थाओं को छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् द्वारा दिए जाने वाले अनुदान की राशि में भी वृद्धि की घोषणा की। उन्होंने कहा कि संस्कृत के प्राथमिक विद्यालय को दी जाने वाली अनुदान राशि 10 हजार से बढ़ाकर 20 हजार, पूर्व माध्यमिक विद्यालय को 20 हजार से बढ़ाकर 30 हजार और हायर सेकेण्डरी विद्यालयों को 40 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रूपए करने की घोषणा की। डॉ. सिंह ने कहा कि संस्कृत भाषा को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।