कौनसी खाने वाली चीज़ पहुंचाती है शरीर को लाभ और हानी ? जानें अभी..

137
जब हम कुछ ऐसा खाते हैं जो शरीर के लिए ठीक नहीं होता, तो शरीर तुरंत इसके संकेत देता है। शरीर को चुस्त और दुरूस्त रखने के लिये एक्सरसाइज के साथ-साथ सहीं चीजें और सही मात्रा में फल, सब्जी आदि का सेवन करना चाहिये। चीनी की अधिक मात्रा के सेवन करने से सूजन की समस्या के अलावा मधुमेह, दांत गिरना और मोटापा जैसी समस्याएं हो सकती हैं। सॉफ्ट ड्रिंक्स, फ्रूट जूस, पेस्ट्री, केक, कैण्डीज आदि में काफी मात्रा में प्रोसेस्ड चीनी होती है जिस पर हम सामान्यत ध्यान नहीं देते तथा अधिक मात्रा में इसका सेवन करते रहते हैं, इसके कारण सूजन व जलन हो सकती है।
” आई जानते हैं चीजें जो शरर के लिये हैं लाभदायक और हानिकारक”
  1. करेला – करेले वैसे तो स्वाद में कड़वा होता है लेकिन सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है और सूजन को दूर करने में भी बहुत मददगार होता है। इसके लिए करेले का रस चार चम्मच और मकोय का अर्क पांच चम्मच लें। इन दोनों को मिलाकर रोज सुबह खाली पेट लेने से सूजन की समस्या नहीं होती है।
  2. गुड़ – स्वास्थ्य के लिए लाभप्रद होने के साथ ही स्वादिष्ट भी होता है। खाना खाने के बाद गुड़ का सेवन करने से ये भोजन को आराम से पचा देता है। साथ ही यह शरीर की सूजन को दूर करने में भी लाभदायक होता है। पुराने गुड़ को सोंठ के साथ मिलाकर खाने से शरीर की सूजन जाती रहती है। इसके अलावा दो चम्मच सूखी हल्दी तवे पर भूनकर उसमें थोड़ा-सा गुड़ मिलाकर सेवन करने से भी सूजन और संक्रमण आदि में बेहद लाभ होता है।
  3. काशीफल  इसके बीज भी बहुत गुणकारी होते हैं। सीताफल और इसके बीजों में Vitamin-C और Vitamin-E, आयरन, कैलशियम मैग्नीशियम, फॉसफोरस, पोटैशियम, जिंक, प्रोटीन और फाइबर आदि के अच्छे स्रोत हैं। सूजन को दूर करने के लिए काशीफल के आठ-दस बीजों की चटनी बनाकर शहद के साथ चाटें।
  4. तेल – खाना पकाने में इस्तेमाल किए जाने वाले कई तेलों में उच्च मात्रा में ओमेगा-6 फैटी एसिड्स होते हैं तथा कम मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड्स होते हैं। आहार में इन फैटी एसिड्स का असंतुलन शरीर में जलन और सूजन पैदा कर सकता है।
  5. शराब – मदिरा का नियमित व अधिक मात्रा के सेवन करने से भोजन नलिका और गले में जलन पैदा हो सकती है जिसके कारण शरीर में सूजन की समस्या भी हो जाती है।

आखिर में यही कहना चहेंगे की अच्छा खाएं, घर का बना हुआ खाएं और स्वस्थ्य जीवन व्यतीत करें।