सिवनी जिले में अन्नदाता की मेहनत पर पानी फेर रहे ट्रांसपोर्टर, लाखों क्विंटल अनाज पड़ा खुले आसामान के नीचे

सिवनी जिले में अन्नदाता की मेहनत पर पानी फेर रहे ट्रांसपोर्टर, लाखों क्विंटल अनाज पड़ा खुले आसामान के नीचे

June 6, 2018 0 By Camera 24

अनाज पड़ा खुले आसामान के नीचे देश का किसान दिन रात एक करके अनाज की उपज करता हैं लेकिन अन्नदाता की मेहनत पर पानी फेरने का काम ट्रांसपोर्टर कर रहे है। मामला है मध्य प्रदेश के सिवनी जिले का जहां खरीदी की अंतिम तारीख 26 मई थीं और सभी किसानों ने अपना अपना माल सोसायटी के माध्यम से तुलवाकर बेंच भी दिया था लेकिन आज दिनांक तक का उठाव नहीं हो पाया है।

आप स्पष्ट देख सकते हैं की लाखों क्विंटल माल खुले आसमान के नीचे रखा हुआ है। सुनवरा गेंहू खरीदी प्रबंधक, शिवकुमार  ने बताया कि गेहूं खरीदी प्रबंधक बार बार ट्रांसपोर्टर के मालिक गोलू अग्रवाल व मैनेजर को फोन लगाते हैं जिससे की जल्द माल को ट्रांस्पोर्ट कर लिया जाए लेकिन शायद बात को नकार दिया जाता है। मौसम खराब होने के कारण यदि पानी गिरता है तो अनाज पानी से खराब हो जाने की पूरी संभावना है लेकिन शायद ट्रांसपोर्टर के पास पर्याप्त वाहन व्यवस्था ना होने के कारण खरीदी केन्द्रों से अनाज ट्रांस्पोर्ट नहीं किया जा रहा है।

इस मामले में जब गेहूं खरीदी DLO मन्नूलाल कुसरे से बात की गई तो उनहोंने बताया कि इस वर्ष सिवनी में टोटल गेहूं खरीदी का लक्ष्य 30 लाख क्विंटल रखा गया था और लगभग 27 लाख क्विंटल गेहूं खरीदा गया और इसमें से करीबन 3 लाख क्विंटल गेहूं विभिन्न सोसाइटी केंद्रों में रखा होना बताया गया है। जब मीडिया ने पानी गिरने पर गेहूं गीला होने का सवाल पूछा तो डीएलओ बाले यदि पानी गिरने से गेहूँ खराब होता है ट्रांसपोर्टर के ऊपर कार्रवाई करने की बात कही गई।


[sp_html5video]